नवदेवता मंदिर

JAMBUDWEEP से
Surbhi jain (चर्चा | योगदान) द्वारा परिवर्तित १६:२६, ३१ जुलाई २०२० का अवतरण
(अंतर) ← पुराना अवतरण | वर्तमान अवतरण (अंतर) | नया अवतरण → (अंतर)
यहाँ जाएँ: भ्रमण, खोज

नवदेवता मंदिर

20200619 061917.jpg

अरिहंत,सिद्ध,आचार्य,उपाध्याय,साधु,जिनधर्म,जिनागम,जिनचैत्य और चैत्यालय इन्हें नवदेवता कहते हैं |

अरिहंत भगवान के द्वारा कहे गये धर्म को जिनधर्म कहते है|

जिनेन्द्र देव द्वारा कहे गये एवं गणधर देव आदि ऋषियों के द्वारा रचे गये शास्त्र को जिनागम कहते है |

अरिहंत देव की प्रतिमा को जिनचैत्य कहते है | और जिनमंदिर को चैत्यालय कहते हैं |